Uttar Pradesh – Agriculture

Site Administrator

Editorial Team

12 Sep, 2015

9422 Times Read.

General Studies, India & States,


RSS Feeds RSS Feed for this Article



Uttar Pradesh – Agriculture

  • Uttar Pradesh Agricultureप्रदेश में 3 प्रतिशत कुल कार्यशील जनसंख्या के लोग कृषि क्षेत्र में लगे हैं।
  • उत्तर प्रदेश में नलकूप सिंचाई का सबसे बड़ा साधन है।
  • प्रदेश में सर्वाधिक बाढ़ प्रभावित क्षेत्रफल पश्चिमी क्षेत्र हैं।
  • प्रदेश में 75 हेक्टेयर औसत जोत आकार है।
  • प्रदेश को नौ कृषि जलवायु प्रदेशों/क्षेत्रों में बांटा गया है।
  • प्रदेश को कुल 20 परिस्थितिकीय क्षेत्रों में बांटा गया है।
  • प्रदेश को आठ मृदा समूह क्षेत्रों में बांटा गया है।
  • प्रदेश की सस्य गहनता राष्ट्रीय औसत से अधिक है।

Uttar Pradesh – Agriculture Production

  • प्रदेश में चावल की अपेक्षा गेहूं की खेती अधिक भू-भाग पर की जाती है।
  • फसल चक्र अपनाकर उर्वरा शक्ति की कम से कम हानि होने से बचाया जा सकता है।
  • बुंदेलखंड क्षेत्र में चने का सर्वाधिक उत्पादन होता है।
  • कपास फसल की बुवाई जून-जुलाई और चुनाई अक्टूबर-नवंबर में की जाती है।
  • मूंग और लोबिया किस मौसम फसल मौसम की फसल है? उत्तर- जायद
  • प्रदेश में कपास की खेती मुख्यत: रूहेलखंड क्षेत्र में की जाती है।
  • बाराबंकी अफीम की खेती के लिए प्रसिद्ध है।
  • गन्ना उत्तर प्रदेश का सर्वाधिक नकदी फसल है।

Uttar Pradesh – Flora and fruits

  • प्रदेश में 20 फल पट्टी संचालित हैं।
  • सहारनपुर और मेरठ में स्टौल आम का उत्पादन होता है।
  • लंगड़ा आम मुख्यत: वाराणसी में पैदा होता है।
  • नवाब ब्रांड के नाम से प्रदेश में उत्पादित आम को अन्य प्रदेशों में प्रचारित किया जाता है।
  • आंवला उत्पादन के लिए प्रतापगढ़ प्रसिद्ध है।
  • प्रदेश में आलू निर्यात जोन आगरा है।
  • आलू को दूसरे प्रदेशों में ताज ब्रांड नाम से भेजा जाता है।
  • अमरूद के लिए प्रशिक्षण एवं प्रयोग केन्द्र इलाहाबाद में है।
  • आम के लिए प्रशिक्षण एवं प्रयोग केन्द्र लखनऊ में है।
  • मेंथा आयल शिवाला के पत्ते से निकाला जाता है।
  • राज्य के 21 जिलों में पान की खेती की जाती है।
  • सम्पूर्ण देश में 90 प्रतिशत मेंथा ऑयल का उत्पादन उत्तर प्रदेश करता है।
  • पशु जैविक औषधि संस्थान लखनऊ में है।
  • कामधेनु व मिनी कामधेनु डेयरी योजनाओं के तहत 100 व 50 गाय/ भैंस पाली जाती है।
  • नई कृषि नीति 2013 के तहत कृषि क्षेत्र में विकास का लक्ष्य 1 प्रतिशत   रखा गया है।
  • देश में पशुधन की दृष्टि से उत्तर प्रदेश पहला स्थान है।
  • प्रदेश में आपरेशन फ्लड-1, 1973 में शुरू हुआ।
  • रीजनल फूड रिसर्च एंड एनालासिस सेंटर लखनऊ में है।
  • प्रदेश में पशु चारा बैंक भरारी (झांसी) में बनाया गया है।
  • गोकुल पुरस्कार योजना दुग्ध उत्पादन से संबंधित है।
  • राज्य दुग्ध परिषद की स्थापना 1976 में की गयी।
  • पान अनुसंधान एवं प्रशिक्षण केन्द्र महोबा में है।

Uttar Pradesh – Irrigation

  • गुरसराय नहर, मंदर नहर माता टीला बांध (रानी लक्ष्मीबाई बांध) से निकलने वाली दो प्रसिद्ध नहरें हैं।
  • मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश ऐसे राज्य हैं जो केन नहर परियोजना में शामिल हैं।
  • ऊपरी गंगा नहर हरिद्वार के पास गंगा के दाहिने से निकलती है।
  • आगरा नहर से चार राज्यों दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश को लाभ मिलता है।
  • हथनी कुण्ड बैराज (ताजे वाला बैराज) पांच राज्यों उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश की संयुक्त परियोजना है।
  • बाण सागर बांध एवं नहर परियोजना तीन राज्यों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार की संयुक्त परियोजना है।
  • राजघाट बांध एवं नहर परियोजना दो राज्यों उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की संयुक्त परियोजना है।
  • प्रदेश सरकार द्वारा सरयू नहर परियोजना 1977-78 से निर्माणाधीन है।
  • सरयू नहर परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना 2012 में घोषित किया गया।
  • देश में उत्तर प्रदेश का कुल कृषि क्षेत्र में सिंचित प्रतिशतता की दृष्टि से तीसरा स्थान है।
  • प्रदेश के पश्चिमी भाग में नलकूपों की गहनता सर्वाधिक है।
  • प्रदेश में शुद्ध सिंचित भूमि का 5 प्रतिशत भू-भाग की सिंचाई नलकूपों से की जाती है।
  • प्रदेश में सबसे अधिक (लम्बाई में)नहरें रायबरेली जिला (2,843) में हैं।
  • प्रदेश में सबसे कम नहरें (लम्बाई में) अमरोहा (52 किमी) में हैं।
  • प्रदेश में नहरों की लम्बाई की दृष्टि से रायबरेली, सुल्तानपुर, प्रतापगढ़ शीर्ष स्थान रखते हैं।
  • देश में नलकूपों से सिंचाई का प्रचलन 1930 के आस-पास शुरू हुआ।
  • प्रदेश में की जाने वाली सिंचाई में सर्वाधिक सिंचाई नलकूपों से की जाती है।
  • निशुल्क बोरिंग योजना सन 1985 से शुरू की गयी।

Responses on This Article

© NIRDESHAK. ALL RIGHTS RESERVED.